फेसबुक ने अपने कर्मचारियों के लिए किया बड़ा एलान, 50 फीसदी कर्मचारी 5 से 10 साल तक वर्क फ्रॉम होम कर पाएंगे

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: दुनिया का सबसे बड़ा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक ने कोविड महामारी की वजह से वर्क फ्रॉम होम पॉलिसी को सपोर्ट किया है। कंपनी के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कहा है कि उनके 50 फीसदी कर्मचारी 5 से 10 साल तक वर्क फ्रॉम होम कर पाएंगे। कंपनी ऐसा करके कर्मचारियों को सुरक्षित रखना चाहती है।

फेसबुक से पहले माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने अपने एक बयान में कहा था कि हालात को देखते हुए कर्मचारी जब तक चाहें घर से काम कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सुधार के बाद भी कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति दी जाएगी। बता दें कि ट्विटर ने अपने कर्मचारियों को मार्च माह के शुरुआत में ही घर से काम शुरू करने की इजाज़त दे दी थी।

ऑफिस खुलने पर कंपनी शुरुआत में सिर्फ 25 फीसदी कर्मचारियों को ऑफिस से काम करने की इजाजत देगी। जो कर्मचारी रिमोट वर्किंग को सपोर्ट करेगा, उसे कंपनी को लोकेशन देनी होगी। कंपनी की वर्क फ्रॉम होम पॉलिसी एक जनवरी के बाद भी चलती रहेगी। बता दें कि कंपनी ने इस पूरी साल के लिए वर्क फ्रॉम पॉलिसी लागू कर दी है।

 

जुकरबर्ग ने कर्मचारियों से कहा कि वे कहां रहना चाहते हैं, इसलिए फेसबुक उनकी सैलेरी को एडजेस्ट कर सकता है। उन्होंने ये भी कहा हम कर्मचारी के बताए गई लोकेशन पर सैलेरी देंगे। जो लोग इस बारे में ईमानदार नहीं हैं, उनके लिए गंभीर बदलाव होंगे।

मार्केट वॉच के अनुसार, कैलिफोर्निया के मेनलो पार्क स्थित फेसबुक हेडक्वार्टर की औसत घरेलू कीमत 2.4 मिलियन डॉलर है, जबकि व्यापक खाड़ी क्षेत्र में औसत घरेलू मूल्य पिछले साल 928,000 डॉलर था। फेसबुक के इंटरनल सर्वे में कर्मचारी इस बात लेकर आश्वस्त थे कि यदि उन्हें मौका मिलेगा तो वे अन्य स्थान पर जाने को तैयार है। लगभग 60 प्रतिशत कर्मचारियों ने कहा कि वे छोटे शहर या कस्बे में जाना पसंद करेंगे।

 

 

क्राइम वीक न्यूज़ ब्यूरो: अंकित गुप्ता

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES